Bounce Rate Kya Hai ? Bounce Rate ko Kam Kaise Kare -hindi blog क्या हैं

Bounce Rate Kya Hai ? Bounce Rate ko Kam Kaise Kare ? अगर आपका ब्लॉग साइट या वेबसाइट है। ham sabhi ko pata hai bounce rate kya hai ? agar bounce rate ke bare me jankar nahi hai. Jante es post me. ham aksar blogger Google analytics sabhi use karte hai आप को पता नहीं है google analytics के बारे में google analytics के बारेमे हिंन्दी में जानें इस पोस्ट पड़सकते हो।

 

Bounce Rate Kya Hai ? Bounce rate kaise kam kare ?

 

Bounce Rate ko Kam Kaise Kare

 

google analytics से हम बहुद कुछ visitors के बारेमे जानकार रख सकते है। Apna blog website ke visitors किस देश से कितने आरहे और कितने पेज देख़, और ऐसे में ही bounce rate kya हो रहा है। और kitne time तक किस पेज को रीड कर रहा है।  bounce rate क्या है ? और यह कितना कम hona achi hai. bounce rate कितना  होना चाहिए या bounce rate we faida ya nuksan kya hai ?

 

 

bounce rate kya hai ?

जब कोई visitors आपकी साइट पर आता है तो सो वह आपकी साइट पर कितने समय तक रुकता है। और कितने पृष्ठों को खुला करता है। bounce rate इसी की (औसत) प्रतिशत (%) होती है। आपकी वेबसाइट पर bounce rate की दर बहुत अधिक है, तो इसका मतलब आगंतुक की आपकी साइट मे ज्यादा दिलचस्पी नहीं है। या हम ये कह सकते हैं कि आपके आगंतुकों को आपकी साइट को पसंद नहीं है। यदि आप ke site new है और आपके ब्लॉग पर पोस्ट कम है तो bounce rate ज्यादा होना कोई बड़ी बात नहीं है. new site पर पोस्ट कम होते हैं। तो उसका bounce rate बहुत अधिक होता है। लेकिन अगर आपके  साइट पुरानी है और उस्समे बहुत सारा पोस्ट भी है। तब और भी बहुत कारण हो सकता है bounce rate उच्च होनेका।

 

Bounce Rate Kya Hai
Google analytics

 

आपको पता चला होगा bounce rate क्या है ? bounce rate को काम करने के लिय आपको कुछ important कूच topic के बारेमे  निचे अच्छी से बताने का कोसिस कर राहु।  मेरेको बिस्वास है इस पोस्ट पड़ने के बाद आपके ब्लॉग वेबसइट में bounce rate  काम हो जायके।

 

 

bounce rate कम कैसे करें ? 

DESIGN –  यदि आपकी साइट का डिज़ाइन अच्छा हो। तोह आगंतुकों आपकी साइट को बिलकुल भी पसंद नहीं करेंगे। ब्लॉग की अच्छी डिजाइन आगंतुकों को आकर्षित करती है। अगर आपका ब्लॉग डिज़ाइन अच्छी नहीं है तो READERS  को आपके ब्लॉग पर दिलचस्पी नहीं होगी और तुरंत छोड़ कर चले जाएंगे। तो आप पहले अपने सभी ब्लॉग को अच्छी तरह से डिज़ाइन करें।

Ads –  अगर आप ब्लॉग मे बहुत ज्यादा (विज्ञापन) ads लगाते है तोह यह पाठकों को विचलित Parisian करता है । इसलिए आपने सीमित ads को अपने ब्लॉग पर use kro.

Widget – बहुत से साइट पर देखा है की एक hi widget को 3/4 जगह मे जोड़ा गया है। अगर आप ऐसा करेंगे तोह आगंतुक को सही पोस्ट सर्च करने के लिए मुश्किल होंगे और वे आपकी साइट से चले जाएंगे। तो आप हमेशा आवश्यकता के हिसाबसे widget USE  कर सकते हो।

Labels Category –  ब्लॉग मे category हमेसा वही रखन अच्छी है जिस विषय पर आपका ब्लॉग है। अगर आप अपने लेख में यह कहेंगे तो वह जो भी जानकारी visitors  को बताएगा कि वह उसे आसानी से मिल जाएगा, लेकिन यदि आप बेकार के लेबल labels  और category का उपयोग करेंगे तो आप visitors को जो जानकारी बताएंगे उसे खोजने के लिए वे और आपकी साइट से चले जाएंगे।

Post Links – आप अपने नए पोस्ट पर एक और पोस्ट की लिंक जोड़ेंगे नहीं तो आप ज्यादातर आगंतुकों को दूसरी पोस्ट पर नहीं जाएंगे। तो आप जब भी कोई नई पोस्ट लिखते हैं तोह हमेशा उस्सामे अपने पुराने (पुराने) पोस्ट का लिंक जरूर जोड़ें। जिससे आपके ब्लॉग का page  रिव्यू बढ़ेगा और visitors  भी आपकी साइट पर बहुत समय रोकेंगे।

Loading Time –  आपकी साइट पर ज्यादा photos  है और उन photos का आकार ज्यादा है तो ब्लॉग का लोड समय बढ़ जाता है। ब्लॉग मे photos का उपयोग करें लेकिन बहुत ज्यादा नहीं। और हमेसा इमेज की साइज को कम रखें जिसे आपका ब्लॉग तेजी से लोड होन चाहिय।

Bounce Rate ko Kam Kaise Kare

Post length –   जब आप किसी विषय पर पोस्ट लिखते हैं तोह आप उसकी पूरी जानकारी दे सकते हैं, ताकि visitors को पूरी जानकारी मिल सके, इसके लिए आपकी पोस्ट मे कम से कम 500 से ज्यादा शब्दों के पोस्ट लिख सकते हैं। जीतन सके आपने पोस्ट पड़ने से सभी को समझमेँ आना चाहिये।

Comments – आप ब्लॉग पर पोस्ट लिखते हैं तोह visitors की आपका पोस्ट कैसा लगा या अगर कुछ सवाल हो तो आप उन लोगों से सवाल पूछne  के लिए आपको अपने ब्लॉग me comments system add karne important hai. और visitors भी आपकी साइट पर रुक जाएगा।

Post title –  पोस्ट का title सही रखा गया है समझ में आना चहिया पोस्ट मे क्या है। अगर आप पोस्ट का शीर्षक सही नहीं रखेंगे तो चाहे आप जितना भी बड़ा और अच्छा पोस्ट क्यों न हो आगंतुकों को आपके शीर्षक को पढ़ने के बाद अगर उन को समाज नहीं आये पोस्ट मे क्या है तो वह उस पोस्ट को खुला भी नहीं करेगा। तो आप हमे पोस्ट का शीर्षक सही रखे।

 

bounce rate ke bare me ess post se aap ko kuch jankari Mila hoga achhilag tw share karma Mat bhulna. thanks for reading bounce rate kya hai ? kaise bounce rat kam kare sabhi jankari padne ke bad I hope aapke blog website me achhi bounce rate mileka.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here